News Nation Logo

70 Stories of Independent India - Part 2

बग़ावत की आग में पाकिस्तान ने चिंगारी डाली। जूनागढ़ के दीवान ने पाकिस्तान में शामिल होने का फैसला किया.. सरदार पटेल की अपील के कारण पश्चिम की रियासतों ने भारत के साथ आने का एलान किया पर भोपाल के नवाब हमीदुल्ला समय मांग कर पाकिस्तान चले गए..बीकानेर पहली रियासत थी जो भारत के साथ आई पर दक्षिण में त्रावणकोर के राजा ने भारत से अलग रहने का फैसला किया जिसका समर्थन पाकिस्तान ने भी किया।

News Nation Bureau | Updated : 16 August 2016, 08:12:07 AM
70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

1

बगावत की आग में पाकिस्तान ने चिंगारी डाली.जुनागढ़ के दीवान ने पाकिस्तान में शामिल होने का फैसला किया सरदार पटेल की अपील के कारण पश्चिम की रियासतो ने भारत के साथ आने का एलान किया पर भोपाल के नवाब हमीदुल्लासमय मांग कर पाकिस्तान चले गए..बीकानेर पहली रियासत थी जो भारत के साथ आई पर दक्षिण में त्रावणकोर के राजा ने भारत से अलग रहने का फैसला किया जिसका समर्थन पाकिस्तान ने भी किया

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

2

हैदराबाद के निजाम उस्मान अली ने अपनी रियासत में तिरंगा फहराने पर रोक लगा दी थी.. अपनी सेना के दम  पर वो सरकार को चुनोती दे रहे थे..

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

3

1948 तक बटवारे को कुबूल कर चुके गांधी सरकारी खजाने में से पाकिस्तान का हिस्सा 55 करोड़ देने के पक्ष में थे..जिसके लिए उन्होनें 13 जनवरी 1948 को अनशन भी किया.

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

4

हिन्दू राष्ट्र नाम के अखवार के संपादक नाथू राम गोडसे ने उसी दिन गांधी को मारने की कसम खाई जिस दिन गाधी जी पाकिस्तान को 55 करोड़ दिलवाने के लिए अनशन पर बैठे.

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

5

1948 में पाकिस्तान ने कश्मीर पर हमला कर दिया.महाराजा हरिसिंह ने भारत से मदद मांगी.1 जनवरी 1949 तक भारतीय फौज ने पाकिस्तानी सेना को कश्मीर से बाहर भगा दिया और इसी के साथ ही कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बन गया

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

6

भारत से बगावत कर रहे हैदराबाद के निजाम के खिलाफ फौज भेजकर सरदार पटेल ने हैदराबाद को भी भारत का हिस्सा बनाया.
नेहरु से मतभेद और बापू की हत्या के बाद लापरवाही के आरोप झेल रहे पटेल ने 15 दिसंबर 1950 को आखरी सांस ली

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

7

26 जनवरी 1950 को भारत गणतंत्र बन गया .सबको धर्म,जाति,लिंग.रंग,कानून के आधार पर समानता का अधिकार मिला.

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

8

1951 के चुनाव में नेहरु फूलपुर सीट से चुनाव लड़े..फूलपुर में नेहरु के प्रचार की कमान उनकी बेटी इंदिरा ने संभाल रखी थी

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

9

पहले आम चुनाव में कांग्रेस को 489 में से 364 सीटें मिली..नेहरु प्रधानमंत्री बने तो इंदिरा आजाद भारत की पॅालिटिकलप्रिंसेस के रुप में जानी जाने लगी..

70 Stories of Independent India - Part 2

70 Stories of Independent India - Part 2

10

नेहरु ने देश की बुनियादी आवश्कता को पूरा करने के लिए पंचवर्षीय योजना बनायी..इस योजना का परिणाम अगले चुनाव में देखने को मिला,कांग्रेस को पहले आमचुनाव के मुकाबले 7 सीट ज्यादा यानी 371 सीटों पर जीत मिली